Animation Kya Hai | ऐनिमेशन क्‍या होता है |

8

बचपन से ही हम T. V. पर Cartoon और शक्तिमान जैसे Serials देखते हुए बड़े हुए हैं जिसके लिए हमें अपने पैरंट्स से डांट भी बहुत मिलती थी क्योंकि उस वक्त ना तो हमारे पास ना तो Smart Phone थे ना ही Computer.
हमारे Entertainment का जरिया केवल Cartoon ही था जिसे देखने के लिए हम पागलों की तरह जिद करते थे |

Animation Kya Hai

और बदले में माता-पिता से खूब डांट भी मिलती थी जितने भी तरह के Cartoon और इंडियन T. V. Serials जो बच्चों के लिए बनाए जाते आ रहे हैं वह सभी Animation की मदद से बनाए जाते हैं क्‍योकि Animation Kya Hai हमें नही था |

आज भी कई सारे Cartoon जैसे छोटा भीम, लिटिल कृष्णा, बाल गणेश इत्यादि सभी में Animation Technology  का प्रयोग किया जाता है |

इन Animation को बच्चों से लेकर बड़े भी बहुत पसंद करते हैं बाहुबली, रोबोट और अवतार जैसी ब्लॉकबस्टर फिल्में भी मजेदार Animation द्वारा बनाई गई है |

जो लोगों को काफी पसंद आई है लोगों में Animation के प्रति इतनी उत्सुकता देखने के कारण Animation के कामों की डिमांड बहुत ज्यादा बढ़ गई है |

इसीलिए Animation का क्षेत्र एक बड़ा प्लेटफार्म प्रदान कर रहा है उन सभी छात्रों के लिए जो इसमें अपना career बनाना चाहते हैं |

आज के इस आर्ट्रिकल में हम आपको Animation Kya Hai और इसमें अपना career कैसे बनाना है इन चीजों के बारे में बताने वाले हैं

लेकिन सबसे पहले मैं आप सभी का Hinditechhouse.com में बहुत बहुत स्वागत करता हूं |

Animation Kya Hai

Animation Kya Hai  यह समझता है कि Animation एक ऐसी Technology  है जिससे कोई भी ऐसा कैरेक्टर, Image या ऑब्जेक्ट जो वास्तव में हिल नहीं सकता हो उसे बोलता हुआ क्या मूवमेंट करता हुआ दिखाया जाता है |

इसमें बहुत सारी Image ऑब्जेक्ट्स को एनर्जी और डिमोशन देकर उसमें मूवमेंट करवाई जाती है जिससे कि वह स्क्रीन पर मुव करता हुआ दिखाई देता है |

Animation को बनाने के लिए बहुत सी Image का उपयोग किया जाता है जिनमें अलग-अलग प्रतिक्रिया Image होती है |

और इन्हें तेज गति से चलाया जाता है जिससे यह मूव करती हुई दिखाई देती है इसमें रुकी हुई Image को इस प्रकार से उपयोग और संचालित किया जाता है जिससे इसके मुवमेट होने का भ्रम देखने वाले के देखने वाले के दिमाग में पैदा होता है |

यहा ऑब्जेक्ट में मोशन का भ्रम पैदा करने के लिए उन Images को जल्दी-जल्दी डिस्प्ले किया जाता है और यह Images लगभग एक जैसे ही दिखते हैं |

और उनमें कम अंतर होता है इसलिए जब उनमें मूवमेंट्स होता है तो हमें पता ही नहीं चलता कि उसमें उपयोग किए गए Images एक नहीं बल्कि अलग-अलग है |

जब लगातार हम इन रुके हुए Images को एक सिक्वेंस में देखेंगे तब हमें वह एक वीडियो Animation की तरह लगता है जिसमें कैरेक्टर और ऑब्जेक्ट मुव कर रहे होते हैं |

अब Animation केबल T. V. की दुनिया तक सीमित नहीं है बल्कि कई सारे अन्य क्षेत्र में भी इसका उपयोग किया जाता है जैसे Games, Movies, Ads, News, Printing, Web Designing आदि क्षेत्रों में Animation का प्रयोग किया जा रहा है  |

ऐसे ही बहुत सी फिल्में है जो या तो पूरी की पूरी Animation से बनाई गई है या उन्हें कुछ सीन में Animation का उपयोग किया गया है जैसे Kung Fu Panda, Angry Birds, Toys Story, Krrish, Spider Man, Avengers आदी |

इन सभी Animation वाली मूवी केवल बच्चे नहीं बल्कि बड़े भी बहुत पसंद करते हैं जिससे मूवी इंडस्‍ट्रीज में एनीमेटेड मूवीज और Cartons की मांग बढ़ी हुई है |

Animation भी बहुत से अलग – अलग प्रकार के होते है इनमे से कुछ के नाम है –

Traditional Animation (cel or Hand – Drawn)

Stop Motion Animation

Motion Graphics

Computer Animation

पुराने समय में Animation तैयार करने के लिए Images और कैरेक्टर्स को ट्रांसपेरेंट शीट पर हैंड रॉबिंस द्वारा बनाया जाता था |

इस प्रक्रिया में बहुत सारे पिक्चर को पढ़ाया जाता था आज के समय में ट्रेडिशनल Animation का इस्तेमाल सिर्फ Cartoon बनाने के लिए किया जाता है |

आधुनिक युग में कंप्यूटर Animation का इस्तेमाल किया जा रहा है यह एक बहुत ही लेटेस्ट टेक्निक है जिसमें मुख्य रूप से तीन चीजें शामिल है –

2D Animation

3D Animation

VFX

आजकल कंप्यूटर Animation का इस्तेमाल सारे Animated  मूवीज और Game में किया जाता है |

Animation Kya Hai

Who is Animator

जो व्‍यक्ति Animation को क्रिएट करता है उसे एनिमेटर कहते हैं एक एनिमेटेर बहुत सारी Images को कैप्चर करता है और उसके बाद अपनी इच्छा अनुसार एक सिक्‍वेन्‍स मे इन Images को  एनिमेट कर वीडियो या जिप फाईल बनाता है |

एनिमेटर का काम क्रिएटिविटी से भरा हुआ होता है जहां पर एक व्यक्ति में विजवलाईज करने की काबीलियत होनी चाहिए, जो प्लेन Images को भी ग्रामेटिकल मोसन मे तब्दील कर सकता है |

Animation को तैयार करने के लिए कंप्यूटर टुल्‍स की जरूरत होती है इसीलिए कंप्यूटर से जुड़ी सारी चीजों और Software के बारे में जानना बहुत जरूरी होता है |

इसकी मदद Films, टेलीविजन, Cartoon, एडवरटाइजमेंट्स, कंप्यूटर गेम्स, वेबसाइट Animation और म्यूजिक वीडियोस भी मनाए जाते हैं |

Animated  बनने के लिए कौन से कोर्स करने होते हैं

Animated  बनने के लिए या Animation के बारे में सब कुछ जानने के लिए Animation का कोर्स करना होता है |

Animation कोर्सेज उन कोर्सेज को कहा जाता है जिसमें छात्रों को Animation से संबंधित सभी जानकारी प्रदान की जाती है |

इसके साथ उसे Animation सॉफ्टवेयर के साथ परिचित कराया जाता है जिससे उन्हें Animation के डिजाईन बनाने में सुविधा हो |

 

वैसे Animation सिखने के लिए दो प्रकार के Animation Courses उपलब्ध है

एक है डिग्री कोर्स और

दूसरा है डिप्लोमा कोर्स

ये दोनों ही कोर्सेज गवर्नमेंट और प्राइवेट इंस्टीट्यूशंस द्वारा प्रदान कराई जाती है |

डिप्लोमा कोर्स 1 साल का होता है और डिग्री कोर्स 3 साल का होता है डिप्लोमा कोर्स करके आप Animation कि बेसिक चीजें सीख पाएंगे |

लेकिन डिग्री कोर्स में आप Animation की एडवांस Technology  के बारे में जान पाएंगे जिससे आप अलग-अलग फील्ड में जॉब पानी के काबिल बन पाएंगे |

इसके अलावा कुछ छोटे शॉर्ट टर्म के सर्टिफिकेट प्रोग्राम्स भी बहुत सारे प्राइवेट इंस्टीट्यूट द्वारा कराए जाते हैं ताकि आप अपने स्कूल को और भी बेहतर बना सकते हैं |

इन प्रोग्राम में Visual Effects, Specializations, Digital Composting, Video Editing और भी बहुत कुछ सिखाया जाता है |

Animation कोर्स की फीस सभी कॉलेजों में अलग-अलग होती है लेकिन इनमे पैसे ज्‍यादा लगते है करीब डेढ़ से दो लाख तक का खर्चा लग जाता है |

Animation के क्षेत्र में अपना career कैसे बनाएं

अगर किसी व्यक्ति को Animation के फील्ड में अपना career बनाना है तो उसके अंदर क्रिएटिविटी होने चाहिए क्योंकि इस फील्ड में सारा काम क्रिएटिविटी का होता है |

एक परफेक्ट एनिमेटर बनने के लिए Hard Work, Visualizing Ability, Imagination, Creativity, Logical Understanding  की खूबियां होनी चाहिए |

Animation आज के समय में एक बहुत बड़ी इंडस्ट्री बन चुकी है जिसमें नाम, पैसा, career वह सब कुछ है जो आज का युवा चाहता है |

यु तो इस फील्‍ड में career बनाने के लिए किसी खास योग्यता की जरूरत नहीं है लेकिन फिर भी बेहतर नौकरी के लिए आपको Animation में डिग्री या डिप्लोमा का कोर्स करना जरूरी है |

इसके साथ-साथ आपको पेंटिंग और ड्राइंग में भी रुचि होनी चाहिए साथ ही इसमें कई तरह की तकनीकी जानकारियों की जरूरत भी होती है जैसे Scripting, Live Drawing, Model Animation आदि |

जैसे-जैसे Animation की डिमांड बढ़ रही है वैसे-वैसे एनिमेटर्स के लिए वर्क Opportunity भी बढ  रही है और उन्हें कई तरह के Profession में काम मिल रहा है |

जैसे एक Graphic Designer, Multimedia Developer, Game Developer, Character Designer, Key frame Animator आदि |

Animation का कोर्स करने के लिए क्या क्वालिफिकेशन चाहिए

जैसे कि मैंने पहले ही बताया है कि Animation का कोर्स दो प्रकार से किया जाता है एक डिग्री और दूसरा है डिप्लोमा |

डिग्री कोर्स करने के लिए एक छात्र को 12वीं की पढ़ाई पूरी करनी आवश्यक है और उसमें 45% से ज्यादा स्कोर रखना भी जरूरी है |

Animation Kya Hai

भारत के कुछ कॉलेज में एडमिशन के लिए प्रवेश परीक्षा होती है डिग्री के कोर्सेज में बहुत सारे कोर्स चुनें के लिए ऑप्शन मिलेंगे जैसे –

B.Sc Animation

M.Sc Multimedia

M.Sc Animation

BA Animation

आदि, जिन्हें आप अपनी इच्छा अनुसार Select कर सकते हैं |

डिप्लोमा कोर्स में एडमिशन लेने के लिए छात्र का 10 वीं पास होना आवश्यक है और इसमें भी 45 % से ज्यादा स्कोर रखने होते हैं |

आगे अगर ओर पढ़ाई करनी है तो आप इसमें पोस्ट ग्रेजुएशन और पीएचडी की डिग्री भी हासिल कर सकते हैं इन दोनों ही डिग्री के लिए एक छात्र के पास ग्रैजुएट डिग्री या डिप्लोमा डिग्री का सर्टिफिकेट होना चाहिए |

भारत में B.Sc की डिग्री के लिए IIT मुंबई द्वारा ऑल इंडिया कॉमन एंट्रेंस एग्जामिनेशन बोर्ड डिजाइन ( CEED| एग्जाम कंडक्ट कराई जाती है |

ताकि भारत में स्थित IITs और IISs में Animation की पढ़ाई के लिए दाखिला मिल सके |

वैसे तो भारत में बहुत से इंस्टिट्यूट है जो Animation में कई तरह के कोर्स ऑफर करते हैं उनके नाम है –

Arena Multimedia, Delhi

Arena Multimedia, Mumbai

Arena Multimedia, Bengaluru

Arena Multimedia, Noida

Global School of Animation, New Delhi

Global School of Animation, Chennai

Maya Academy of Advance Cinematic, Mumbai

Industrial Design Center, IIT Mumbai

Birla Institute of Technology, Noida

Animation के क्षेत्र में career प्रोस्पेक्ट्स क्या क्या है

क्रिएटीव लोगों के लिए इस फील्ड में बहुत से अवसर है Animation में एक ग्रैजुएट, डिप्लोमा या  पोस्ट ग्रेजुएट की डिग्री लेने के बाद आपको बहुत सारी जगह पर क्रिएटिव टीम का हिस्सा बनकर काम करने का मौका मिलेगा |

Animation Kya Hai

जैसे टेलिविजन चैनल, प्रोडक्शन हाउस, मल्टीमीडिया एजेंसी, एडवरटाइजिंग एजेंसी, वेब डिजाइनिंग एंड ग्राफिक डिजाइनिंग फॉर्म्स, मोबाइल एप्लीकेशन फॉर्म्स और गेमिंग कंपनीज इन जगहों पर अच्छी सैलरी पैकेज के साथ आपको काम करने का मौका मिलता है |

एक अनुमान के अनुसार देश में फिलहाल 300 से ज्यादा Animation Studios है जिनके पास हर समय विदेशी प्रोजेक्ट रहते हैं |

Animation अब फिल्मों में ही नहीं बल्कि बिजनेस, Sells, Engineering, शिक्षा और विज्ञापन के क्षेत्र का अहम हिस्सा बन गया है |

फैशन डिजाइनिंग, इंटीयरिंग डिजाइनिंग, मेडिकल और इंश्योरेंस कंपनीज भी अपने प्रोडक्ट को प्रेजेंटेशन के लिए Animation का इस्तेमाल कर रहे हैं इस फील्ड में जैसे-जैसे आफ एक्सपीरियंस बढ़ता जाएगा वैसे वैसे आपकी सैलेरी भी बढती जाऐगी |

आशा है कि दोस्तों आपको दिया गया आर्टिकल Animation Kya Hai के ऊपर संपूर्ण जानकारी मिल गई होगी हमारी हमेशा यही कोशिश रहती है कि दिए गए विषय के ऊपर पूरी जानकारी मिले जिससे कि आपको और कहीं जाने की जरूरत ना पड़े |

अगर आपको यह आर्टिकल Animation Kya Hai अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर कीजिए ताकि यह महत्वपूर्ण जानकारी उनको भी मिल सके अगर आपको इस आर्टिकल संबंधित कोई सुझाव हो तो हमें नीचे कमेंट में जरूर बताएं |

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here