Java Kya Hai

15

इस स्मार्टफोन और इंटरनेट की दुनिया में हमारी दिन की शुरुआत बिना मोबाइल के नहीं होती हम जब भी सुबह सोकर उठते हैं तो हम सबसे पहले अपने मोबाइल फोन को ही देखते हैं यह हमारी जिंदगी का हिस्सा बन गया है |

Java Kya Hai

और हम अपना सारा काम इसे मोबाइल फोन पर ही करते हैं पहले सामान खरीदने के लिए हमें बाजार जाना होता था पैसे भेजने के लिए या जमा कराने के लिए बैंकों में सुबह से लाइन में लगना पड़ता था लेकिन अब वह सारे काम हम घर बैठे मोबाइल से ही कर सकते हैं |

क्या आपने कभी सोचा है कि यह सारी सुविधा हमें मोबाइल से कैसे प्राप्त होती है यह संभव हो पाया है एक उच्च स्तरीय प्रोग्रामिंग लैंग्वेज जावा से अगर आप कंप्यूटर के स्टूडेंट रह चुके हैं या रहे होंगे तो आपने जावा का नाम जरूर सुना होगा तो आईऐ जानते है Java Kya Hai

Java kya hai

जावा एक ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जिसे हाई लेवल लैंग्वेज भी कहा जाता है क्योंकि इसे मानव द्वारा आसानी से पढ़ा और लिखा जा सकता है|

जावा एक मल्टीपल प्लेटफॉर्म और डिस्ट्रीब्यूटर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जिसका उपयोग कंसोल एप्लीकेशन, वेब एप्लीकेशन, मोबाइल एप्लीकेशन डेवलपमेंट, गेम डेवलपमेंट या बीसीई डेवलपमेंट या एंबेडेड सिस्टम को बनाने के लिए किया जाता है|

इसके अलावा इस लैंग्वेज का इस्तेमाल लगभग सभी डिवाइजेस के लिए सॉफ्टवेयर या ऐप डिवेलप करने के लिए भी होता है |

जावा दूसरी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की तुलना में सरल बेहतर और तेज सुरक्षित प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है इसका उपयोग वर्तमान समय में केवल कंप्यूटर में ही नहीं मोबाइल फोन, टेबलेट, इलेक्ट्रॉनिक्स डिवाइसेज जैसे टीवी, वॉशिंग मशीन आदि में भी किया जाता है|

Java Kya Hai

आजकल ऑनलाइन शॉपिंग, ऑनलाइन बैंकिंग, ऑनलाइन एग्जाम फॉर्म भरना यह भी जावा की मदद से ही संभव हुआ है वर्तमान में लगभग सभी मोबाइल कंपनी जावा का सपोर्ट करते हैं |

गूगल ने जावा को लाइनेक्स के साथ जोड़ते हुए मोबाइल डिवाइसेज के लिए एंड्राइड का नाम एक ओपन सोर्स ऑपरेटिंग सिस्टम डिवेलप किया गया है जो कि आज के समय में काफी मशहूर हो चुका है|

और लगभग सभी बड़ी कंपनियां एंड्रॉयड प्लेटफॉर्म के लिए मोबाइल टेबलेट स्मार्ट वॉच आदि डिवेलप करते हैं|

जावा लैंग्वेज वेब एप्लीकेशन जैसे वेबसाइट को बनाने की सुविधा भी प्रदान करती है और साथ ही मोबाइल के लिए एप्लीकेशन बनाने में भी मदद करती है |

आज के समय में जितने भी वेब पेज हैं वह सब जावा स्क्रिप्ट पर ही चलते हैं एंड्रॉयड डिवाइस इसके लिए बहुत सारे ऐसे एप्लीकेशन बनाए गए हैं जोकि जावा में लिखा गया होता है यह एप्लीकेशन एंड्राइड के सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट किट यानी एसडीके का उपयोग करके बनाया गया है |

Java ki History

जावा एक कंप्यूटर बेस्ट प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जिसे जेम्स गोस्लिंग और उनके साथी सन माइक्रोसिस्टम ने सन 1991 मैं विकसित किया था|

जेम्स गोस्लिंग को जावा का प्रमुख डेवलपर माना जाता है इस लैंग्वेज को बनाने के पीछे उनका एक ही सिद्धांत था लैंग्वेज को एक ही बार लिखा जाएगा और इसका उपयोग हर जगह किया जाएगा|

जेम्स गोस्लिंग और उनकी टीम द्वारा विकसित किए गए इस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का नाम उन्होंने ओक रखा था इसके बाद संग 1995 में इसका नाम बदलकर  जावा कर दिया गया|

James Gosling

जावा के टीम के सदस्यों को ग्रीन टीम भी कहा जाता है|

इन्होंने एक लैंग्वेज को डिवेलप करने के लिए एक प्रोजेक्ट शुरू किया था जोकि डिजिटल डिवाइस के लिए एक एप्लीकेशन डिवेलप करने मैं मदद करता है|

मुख्यतः जावा को कंजूमर इलेक्ट्रॉनिक्स डिवाइसेज जैसे कि टीवी, सेट टॉप बॉक्स, वीसीआर सॉफ्टवेयर बनाने के लिए डिवेलप किया गया था लेकिन यह इंटरनेट प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के लिए बेस्ट प्रोग्रामिंग लैंग्वेज बन गया|

जेम्स गोस्लिंग में इस प्रोग्राम का नाम सबसे पहले ग्रीनटाॅक रखा था जिसके बाद इस को बदल कर ओक रखा गया यह नाम पहले से ही ओक टेक्नोलॉजी के नाम रजिस्टर्ड था इसलिए इसे फिर से बदल कर जावा रखा गया|

Java Kya Hai का सबसे महत्वपूर्ण और लोकप्रिय फीचर है कि जावा इंडिपेंडेंट होता है |

इसका मतलब है कि जावा प्रोग्रामिंग लैंग्वेज किसी भी हार्डवेयर या ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए नहीं बनाया गया है इसलिए जावा पर बनाए गए प्रोग्राम किसी भी सिस्टम पर रन किया जा सकते हैं|

जावा का यह यूनिक फीचर जावा को आज भी पॉपुलर लैंग्वेज बनाता है|

जावा का पहला वर्जन JDK 1.0  23 जनवरी 1996 रिलीज किया गया था उसके बाद कई सारे वर्जन डिवेलप और रिलीज किए गए|

वर्तमान में जवा का लेटेस्ट वर्जन है JAVA SE 8 जिसे 18 मार्च 2014 में रिलीज किया गया था|

JAVA SE 8

यहां एक ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड लैंग्वेज है जो C और C++ लैंग्वेज पर आधारित है लेकिन झावा को और भी सिंपलीफाई और इंप्रूव किया गया है जिससे प्रोग्रामिंग फीचर की त्रुटि को दूर किया जा सके|

जावा सोर्स कोड की फाइल जिनका एक्सटेंशन .Java  होता है उनको कंपाइलर की मदद से पिन कोड फॉर्मेट में जनरेट किया जाता है और फिर जावा इंटरप्रेटर इसको एग्जीक्यूट करता है|

कप्लाइड जावा कोड सभी कंप्यूटर पर जवा वर्चुअल मशीन यानी JVM की मदद से रन होता है JVM एक वर्चुअल मशीन है जो कि टाइम इंवॉल्वमेंट उपलब्ध करवाता है जहां पर जावा प्रोग्राम को रंग किया जाता है|

जितने भी कंप्यूटर जावा प्रोग्राम को रंग करते हैं उन सभी में पहले से ही जेवीएम स्टॉल रहता है इसलिए जावा का सोर्स कोड सभी कंप्यूटर में चलता है|

Types of Java

जावा वास्तव में एक बहुत ही बड़ी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है इसलिए सन माइक्रोसिस्टम ने इसे कई हिस्सों में विभाजित कर दिया है|

ताकि जो प्रोग्राम जिस कैटेगरी से जुड़े सॉफ्टवेयर डेवलप करना चाहते हैं उन्हें केवल उसी कैटेगरी के जावा की जानकारी लेना होती है|

जावा को मूल रूप से तीन हिस्सों में डिवाइड किया गया है

1  Java Micro Edition (J2ME)

2 Java standard Edition (J2SE)

3 Java Enterprise Edition (J2EE)

Features of Java

1 Object Oriented –  जावा एक शुद्ध ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज (OOPS)  है अर्थात इसमें प्रोसीजर का प्रयोग नहीं किया जाता बल्कि यह सिर्फ ऑब्जेक्ट पर आधारित लैंग्वेज है|

जावा oops के कंसेप्ट को फॉलो करता है जो सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट और मेंटेनेंस के रूप के काम को सरल बनाती है|

2  Platform Independent – जावा प्लेटफॉर्म इंडिपेंडेंट लैंग्वेज है अर्थात यह हर किसी प्लेटफार्म में रन हो जाती है जैसे एंड्रॉयड, विंडो, लिनक्स और Mac. Java में लिखा गया प्रोग्राम है|

किसी भी ऑपरेटिंग सिस्टम में रन किया जा सकते हैं जैसे अगर अपने जावा का प्रोग्राम विंडो ओएस में लिखा है तो उसे लिनक्स os में भी आसानी से रन कर पाएंगे|

3 Secure –  जावा का एक और बड़ा फीचर यह है कि यह सुरक्षित लैंग्वेज है जावा सबसे अधिक सुरक्षित है क्योंकि जावा प्रोग्राम जावा रनटाइम एनवायरमेंट में रग होता है|

Types of Java

मशीन कोड जनरेट करने से पहले प्रोग्राम को JVM पर कुछ टेस्ट रन करके त्रुटि को  डिटेक्ट करती है जावा लैंग्वेज वायरस फ्री होती है जिसमें प्रोग्राम सुरक्षित रहते हैं|

4 Simple Language – जावा एक आसान लैंग्वेज है क्योंकि इसमें C ++ की तरह ही सिंटेक्स होते हैं जो कि आसानी से सीखे जा सकते हैं नेट इन C++ की तरह इसमें ऑपरेटिंग ओवरलोडिंग और हेड फाइल का प्रयोग नहीं किया जाता जिससे इसे सीखना और भी आसान हो जाता है|

5 Portable – जावा एक पोर्टेबल लैंग्वेज है क्योंकि जावा का सोर्स कोड कंपाइलर की मदद से  बिट बोर्ड में परिवर्तन किया जाता है यह  बिट कोड हर किसी सिस्टम में रन हो जाता है इसलिए इसे आसानी से प्राप्त किया जाता है |

6 Robust – रॉबेेस्ट का मतलब है मजबूत जावा में बनाया हुआ कोई भी प्रोग्राम अलग-अलग इंवॉल्वमेंट में बिना क्रैश हुए काम कर सकता है इसके प्रोग्राम कभी भी क्रैश नहीं होते जावा में जो भी त्रुटि जाती है|

उन्हें आसानी से ढूंढ कर सोल किया जा सकता है इन सभी कारणों में जावा का एक रॉबेेस्ट लैंग्वेज है|

7 Distribute – जावा एक डिसटीब्यूट लैंग्वेज है इसका मतलब है कि जावा प्रोग्राम इंटरनेट में रग करने के लिए बनाए जाते हैं जावा में हम डिसटीब्यूट एप्लीकेशन बना सकते हैं|

यह वह एप्लीकेशन होती हैं जो अलग-अलग नेटवर्क पर डिसटीब्यूट होकर रहते हैं लेकिन एक साथ मिलकर Task परफाॅॅॅॅर्म करते हैं जावा में http और ftp प्रोडक्ट का प्रयोग किया जाता है जिससे कि आसानी से इंटरनेट में डाटा को एक्सेस किया जा सके|

8 Multi Threaded –  जावा एक मल्टीथ्रेड लैंग्वेज है जिसका मतलब है कि जावा में बड़े-बड़े प्रोग्राम को छोटे सब प्रोग्राम में डिवाइड किया जाता है और इन्हीं सब प्रोग्राम को क्रमानुसार  एग्जीक्यूट किया जाता है|

इस प्रकार जावा  एक साथ कई टास्क पूरा कर सकता है यह फ्यूचर जावा को फास्ट और अट्रैक्टिव कर बनाता है इस फीचर का इस्तेमाल मल्टीमीडिया और  वेब एप्लीकेशन में किया जाता है|

दोस्तों जावा एक बहुत ही सिंपल और सिक्योर लैंग्वेज है जो कि आज के दिनों में यह 3 बिलियन डिवाइस में इस्तेमाल की जा रही है|

आशा है कि इस आर्टिकल Java Kya Hai में आपको जावा क्या है और इसके फीचर से जुड़ी सारी जानकारी मिल गई होगी हमारी हमेशा यही कोशिश रहेगी है कि दिए गए विषय पर पूरी जानकारी प्राप्त की जा सके और आपको कहीं और जाना ना पड़े|

अगर आपको यह आर्टिकल Java Kya Hai अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर कीजिए ताकि यह महत्वपूर्ण जानकारी उन्हें भी मिल सके और आपको इस आर्टिकल संबंधी कोई सुझाव हो तो हमें नीचे कमेंट में जरूर बताएं|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here