UPI Failed Transaction Refund in Hindi

56

हम तेजी से डिजिटल इंडिया की तरफ बढ़ रहे हैं डिजिटल होती दुनिया में पैसों का लेनदेन भी तेजी से डिजिटल हो रहा है साथ ही कोरोनावायरस महामारी के दौरान देश में ऑनलाइन पेमेंट तेजी से बढ़ा है यह सभी मुमकिन हो पाया है यूपीआई यानी यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस के जरिए पर कई बार ऐसा भी होता है कि युपीआई से किया गया लेनदेन फेल हो जाता है UPI Failed Transaction Refund।

UPI Failed Transaction Refund in Hindi

UPI Failed Transaction Refund in Hindi

जिस से ग्राहकों को काफी समस्या का सामना करना पड़ता है इस समस्या को दूर करने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक ने एक नया नियम बनाया है जिसके मुताबिक अगर आपका यूपीआई ट्रांजैक्शन फेल हो गया है और खाते से कटे हुए पैसे वापस नहीं आए हैं तो बैंक आपको रोजाना ₹100 का हर्जाना देगा।

दरअसल सितंबर 2019 में आर बी आई ने फैल ट्रांजैक्शन को लेकर नया सर्कुलर जारी किया था जिसे 5 अप्रैल 2021 से लागू कर दिया गया है जिसमें पैसों की ऑटो रिवर्सल को लेकर टाइम फ्रेम सेट किया गया है ।

इस सर्कुलर के अनुसार फेल हुए लेनदेन का पैसा ऑटो रिवर्सल लेनदेन की डेट से T+1 दिन में पूरा हो जाना चाहिए आसान भाषा में कहें तो मान लीजिए आपका ट्रांजैक्शन फेल हुआ है तो उसके अगले कारोबारी दिन तक खाते में पैसे वापस आ जाने चाहिए अगर ऐसा नहीं हुआ तो देरी के लिए बैंक आपको रोजाना 100 रूपये मुआवजे के तौर पर देगा ।

ट्रांजैक्शन फेल क्यों होती हैं ?

ट्रांजैक्शन फेल होने की कई वजह हैं जैसा कहीं बाहर लिमिट से ज्यादा ट्रांजैक्शन कर लेने की वजह से ट्रांजैक्शन फेल हो जाती है ।

इसके अलावा पेमेंट सेक्शन पेज का टाइम पीरियड खराब हो जाने की वजह से भी ट्रांजैक्शन फेल हो जाती हैं ।

साथ ही खाते में पैसा कम होने या फिर गलत पिन नंबर डालने से भी ट्रांजैक्शन फेल होने की दिक्कत आती है।

UPI Failed Transaction Refund Process 

वैसे तो आमतौर पर ट्रांजैक्शन फेल होने पर पैसे खुद ब खुद खाते में ही वापस आ जाते हैं पर अगर पैसा वापस नहीं आता है तो आप यूपीआई ऐप में जाकर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

इसके लिए आप यूपीआई ऐप मैं आपको पेमेंट हिस्ट्री ऑप्शन पर जाना होगा इसके बाद Raise Dispute पर क्लिक करना होगा और Raise Dispute पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं साथ ही Dispute Status में अपनी शिकायत का स्टेटस भी चेक कर सकते हैं ।

और अगर शिकायत के बावजूद बैंक की तरफ से कोई रिस्पांस नहीं मिलता है तो आरबीआई के डिजिटल ट्रांजैक्शन 2019 के ओंबड्समैन स्कीम में अपील कर सकते हैं डिजिटलाइजेशन के बढ़ने के साथ ही देश में फ्रॉड साइबर क्राइम का भी लगातार बढ़ती जा रही है जिसके लिए रिजर्व बैंक लगातार अपने ग्राहकों को जागरूक करता रहता है।

यह भी पढें :-

तो दोस्तो कैसे लगा आज का यह आट्रिकल हमे आशा की आपको मालुम हो गया होगा की आप UPI Failed Transaction Refund in Hindi के बारे में पुरी जानकारी प्राप्त होग गई होगी तो हमे कमेट करे के जरूर बताऐ । 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here