Satellite Kya Hai | उपग्रह क्‍या होते है |

आज हम आपको बताने वाले है कि Satellite क्या है Satellite कैसे काम करता है और इसकी पूरी जानकारी |

आपने कई बार इन के बारे में जाने की कोशिश की होगी कि Satellite क्‍या होता है ? यह हवा में कैसे टिके रहते हैं |

Satellite Kya Hai

लेकिन क्या आप जानते हैं दैनिक जीवन में आप जितने भी काम करते हैं उनमें से बहुत से काम ऐसे हैं जो किसी न किसी Satellite पर निर्भर हैं |

फिर चाहे आप टीवी देख रहे हो या फिर टीवी पर मौसम का हाल देख रहे हो, अपने मोबाइल में जीपीएस नेवीगेशन का इस्तेमाल कर रहे हो या फिर अपने दोस्त या घरवालों को विदेश में कॉल करके बात कर रहे हो तो यह सभी काम किसी न किसी Satellite के भरोसे ही होती हैं |

Satellite Kya Hai

इसे आसानी से समझे तो एक छोटा Object जो अपने से कहीं बड़े Object के चारों तरफ अंतरिक्ष में चक्कर लगा रहा है वह Satellite कहलाता है |

इसे हम हिंदी में उपग्रह भी कहते है, इस हिसाब से हमारी पृथ्वी के चारों ओर चक्कर लगाने वाला चंद्रमा भी एक Satellite है |

लेकिन यह प्राकृतिक Satellite या उपग्र‍ह है जो इंसान के हिसाब से नहीं चलता है |

लेकिन इसी से प्रेरणा लेकर इंसान ने अपने खुद के Satellite बनाकर उन्हें पृथ्वी की कक्षा में छोड़ दिए हैं |

जो हम इंसान के लिए बहुत बड़ी भूमिका निभा रही है आपको बता दें कि मानव द्वारा निर्मित Satellite एक छोटे से टीवी के आकार से लेकर एक बड़े ट्रक के बराबर भी हो सकती है यहा इनकी साइज इनके काम पर निर्भर करती है |

Satellite के दोनो तरफ सोलर पेनल होते है जिससे इनको ऊर्जा यानी बिजली मिलती रहती है वही इनके बीच में ट्रास्‍मीटर और रिसीवर होते है जो Signal को रिसीव और भेजने का काम करते हैं |

इसके अलावा कुछ कंट्रोल मोटर भी होती है जिनकी मदद से हम Satellite को रिमोटली कंट्रोल कर सकते है |

इनकी स्थिति को चेंज करना हो या फिर ऐगल चेंज करना हो सब इन कंट्रोल मोटर के जरिए कर सकते हैं |

इसके अलावा Satellite को किस काम के लिए बनाया गया है वह Object आपको Satellite में देखने को मिल जाती है |

जैसे उपग्रह‍ को बिजली की इमेज लेने के लिए बनाया गया है तो Satellite में बडे Camera भी लगे होते है या फिर Scanning के लिए बनाए गये तो उसमे Scanner देखने को मिल जाऐगे |

How to Work Satellite

यह सब Satellite के कार्य पर निर्भर करता है मुख्‍यत: हम उपग्रह को कम्युनिकेशन के लिए काम में लेते हैं |

क्योंकि रेडियो और ग्राउंड वेब धरती के पूरी कम्युनिकेशन में काम नहीं आ सकती है इसलिए ज्यादातर Satellite कम्युनिकेशन के काम के लिए बनाई जाती है

How to Work Satellite

आपके मन यह सवाल जरूर आया होगा कि Satellite ऊपर कैसे टीके रहते है, यह तो आप जान गये होगे कि Satellite क्‍या है और Satellite क्‍या होता है  

लेकिन यहां पर सबसे बड़ा सवाल यही आता है कि Satellite ऊपर हवा में कैसे टीके रहते है यह धरती पर गीरते क्‍यो नहीं है |

इसके लिए बहुत सिंपल नियम है जैसे किसी चीज को अंतरिक्ष में रहना है तो उसे अपनी एक गती से किसी एक बडे Object का चक्कर लगाते रहना होगा |

इनकी स्पीड पृथ्वी के गुरुत्वाकर्षण बल को अपने ऊपर हावी नहीं होने देती है तो इस नियम के चलते ही सारे उपग्रह हवा में ऊपर टिके रहते हैं |

यह भी पढें – Computer Expert कैसे बने |

Three Types of Satellite

1 Low Earth Orbit Satellite – यह उपग्रह पृथ्वी के कक्षा के काफी पास होते हैं इनकी ऊचाई 160 से 1600 किलोमीटर तक होती है |

यह काफी तेज गति से पृथ्वी के चक्कर लगाते हैं इसलिए यह दिन में कई बार पृथ्वी के चक्कर पूरे कर लेते हैं |

ऐसे में इन्हें धरती को स्कैन करने में बहुत कम समय लगता है इनका ज्‍यदातर उपयोग इमेज और स्‍केनिंग के लिए किया जाता है |

2 Medium Earth Orbit Satellite – यह वह उपग्रह होते हैं जो बहुत तेजी या स्लो स्पीड से चक्कर नहीं लगाते हैं |

यह करीब 12 घंटे में धरती का एक चक्कर पूरा कर लेती है यह उपग्रह किसी जगह से एक से एक निश्चित समय से गुजरते है |

इनकी ऊचाई 10 हजार से 20 हजार किलोमीटर तक होती है इनका उपयोग नेविगेशन के लिए किया जाता है |

3 High Earth Orbit Satellite – ये वो उपग्रह होते हैं जो धरती से बहुत दूर यानी करीब 36000 किलोमीटर की दूरी पर होती है यह उपग्रह पृथ्वी की स्पीड के साथ पृथ्‍वी का चक्कर लगाते हैं |

How to Work Satellite

यानी यह उपग्रह ठीक आपके ऊपर है तो वह हमेशा आपके ऊपर ही रहेगा |

इन उपग्रहो का उपयोग कम्युनिकेशन के लिए किया जाता है अब आप जानते होंगे कि Satellite क्या है या Satellite क्‍या होते है |

इस आर्टिकल से Satellite के बारे में काफी कुछ जानकारी मिल गई होगी |

हमारी भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी ISRO की बात करें हर साल नहीं नहीं कामयाबी को छु रही है, आपको जानकर हैरानी होगी भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी ISRO अब तक करीब 100 Satellite अंतरिक्ष में भेज चुकी है |

आशा है कि दोस्तों आपको दिया गया आर्टिकल Satellite Kya Hai के ऊपर संपूर्ण जानकारी मिल गई होगी हमारी हमेशा यही कोशिश रहती है कि दिए गए विषय के ऊपर पूरी जानकारी मिले जिससे कि आपको और कहीं जाने की जरूरत ना पड़े |

अगर आपको यह आर्टिकल Satellite Kya Hai अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर कीजिए ताकि यह महत्वपूर्ण जानकारी उनको भी मिल सके अगर आपको इस आर्टिकल संबंधित कोई सुझाव हो तो हमें नीचे कमेंट में जरूर बताएं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here