Oxygen Kya Hai

232

दोस्तों आज के इस आटीकल में हम आपको बताएंगे की Oxygen Kya Hai और इसका इतीहास क्या है ?

Oxygen Kya Hai

Oxygen Kya Hai ?

Oxygen एक Diatomic गैस है Oxygen का रासायनीक सुत्र है  ये  तीसरा ऐसा रासायनीक तत्व है जो धरती पर सबसे ज्यादा है वायु में करीब 29.29% की मात्रा Oxygen की होती है, चांदी को गर्म करने पर यह Oxygen को अवशोषित कर लेती है तथा ठंडा करने पर अवशोषित Oxygen निकल जाती है इसे चांदी का उदवमन कहते है ।

Advertisement

ऑक्सीजन गैस में ना कलर होता है ना ही टेस्‍ट ओर न ही उसकी खुशबु होती है  हम सबको और जानवरों को भी Oxygen की जरूरत पडती है श्‍वास लेने के लिए ।

दहकते हुए तीनके के प्रज्‍वलीत होने से Oxygen की पहचान होती है नाइट्रस ऑक्साइड ऑक्साइड से इसको भिन्‍नता नाईट्रीक ऑक्‍साईड के उपयोग से जानी जा सकती है ।

Oxygen की मात्रा क्‍युप्रस क्‍लोराईड पाईरोगेलाल की खोल तांबा अथवा इसी प्रकार की दुसरी उपयुक्‍त वस्‍तुओ द्वारा सोशीत कराने से ज्ञात की जाती है ।

Oxygen खोज किसने की ? 

Oxygen गैस की खोज सबसे पहले Sweden के Scheele नामक वैज्ञानीक ने 1772 मे की थी । Oxygen की खोज प्राप्‍ती अथवा प्रारंभिक अध्ययन मे J. Priestley और C W Scheele ने महत्‍वपूर्ण कार्य किया है ।

Oxygen आवर्त सारणी का आठवां तत्व है Oxygen रंगीली, स्वादहीन तथा गंधरहित गैस है Oxygen का प्रतिक चिन्‍ह  O तथा इलेक्‍ट्रोतीक विनीयास होता है।

Oxygen को आवर्त सारणी के  उपवर्ग 6A में रखा गया है Oxygen का हिंदी नाम जारक है और चिन्‍ह  जा है ।

पेड़ पौधे हमें Oxygen प्रदान करते हैं और बदले में कार्बनडाई ऑसाईड ग्रहण करते है साथ ही हम आपको बता दें कि भारत में सबसे ज्यादा पूजा जाने वाला पेड़ पीपल ऑक्सीजन का सबसे अच्छा स्रोत है जो कि ये हमें चोबीस घंटे Oxygen प्रदान करता है।

इसीलिए वातावरण को हरा-भरा रखें और पेड़ पौधों की रक्षा करें तभी हमारा जीवन सुरक्षित हो पाएगा दोस्तों क्या आपको मालूम है कि फेफड़ों की क्षमता जीवन की हर 10 साल बाद 5% घट जाती है जिससे शरीर में Oxygen की खपत कम हो जाती है ।

यही कारण है कि ऑक्सीजन की कमी आने से केंसर जैसी घातक बिमारीया पैदा हो जाती  है।

Oxygen हमारे लिए इतनी जरूरी है कि केवल 5 सेकंड के लिए धरती से ऑक्सीजन घायब हो जाए तो दिन में अंधेरा छा जाएगा तथा कान के परदे फटने का खतरा हो जाएगा।

Oxygen की फ्रेक्‍ट्री वनस्‍पती को कहा जाता है क्‍योकी 117  लीटर Oxygen हर साल औसताकार की पेडो की पत्‍तीयां बनाती है इसीलिए पैड – पोधे हमें जीवन प्रदान करने का काम करते है ।

Oxygen धरती पर कब आई ?

शोध करताओ का दावा है की करीब 3.5 अरब साल पहले धरती पर Oxygen बननी शुरू हो गई थी जिस कारण मनुष्य दिन में कुछ भी ग्रहण करें या खाने में कोई भी ले ले उका 25% भाग Oxygen  ही होता है ।

Oxygen  एक मोलीक्‍युल है जो दो Oxygen  ऐटोम से मिलकर बना हुआ है Oxygen ऐलोट्रोप के रूप में प़थ्‍वी के उपरी भाग में ओजोन मे पाई जाती है ये औजोन लेयर हमे UV Rays से बचाती है ऑप्शन ए लोट के रूप में पृथ्वी की ऊपरी भाग में मौजूद कैसे पाई जाती है।

Oxygen का घनत्‍व 1.4290 ग्राम प्रति लीटर है जीरो डिग्री सेंटीग्रेड 750 मिलीलीटर ताप पर और वायु की अपेक्षा ये गैस 1.10 527 गुना भारी है हमारे प्‍लेनेट अर्थ में Oxygen एक जानी मानी गैस है क्‍योकि ये इंसानो और सभी जीव जन्‍तुओं को जीवीत रखती है ।

ये गैस एक जरूरी हि‍स्‍सा है अर्थ के ऐटमोस्‍पीयर और हाइड्रोस्फीयर में ये एक ऐसी गैस है जिसका असर पेड़ पौधे जानवरों और मैटल्‍स सभी पर पड़ता है पेड़ पौधे कार्बन डाईऑसाईड लेते है और उससे Oxygen गैस बनाते हैं इसे विज्ञान में फोटोसीनथेसीस कहते है ।

मानव की बॉडी में 65% केवल ऑक्सीजन की होती है Oxygen दो रूप में पाई जाती है कार्बन डाई ऑक्‍साईड और औजोन रसायन कि दुनिया मे इन दोनो का कंपोजीशन अलग होता है Oxygen एक केमीकल ऐलीमेंट है जिसे रसायन में  O सिंम्‍बल से जाना जाता है।

ऑक्सीजन का एटॉमिक नंबर होता है आठ और ये पेरियोडीक टेबल में कैलकोजन ग्रुप का मेंबर है ऑक्सीजन एक बहुत ज्यादा रिएक्‍टीव नॉरमेटल जिनको सांस लेने में दिक्कत होती है।

Oxygen के टेक उनके लिए मेडीसन बनाने में युज आते है Oxygen Astronauts एण्‍ड Scuba Divers के लिए बहुत जरूरी होती है।

Oxygen का उपयोग कहां पर होता है ?

बड़ी-बड़ी इंडस्‍ट्रीज में ऑक्सीजन प्रयोग स्‍टील बनाने में किया जाता है लौहे की मोटी चदर काटने अथवा टुटे भागो को जोडने के लिए Oxygen  तथा दहनशील गैस को जलाया जाता है ।

इस प्राकार उत्‍पन्‍न ज्‍वाला का ताप बहुत अधीक होता है साधारण Oxygen के साथ हाईट्रोजन तथा ऐसीटीलीन जलाई जाती है इसके लिए ये गैसे इस्‍पात के बेलनो में अती समपडीत अवस्‍था में दिखती है ।

चिकीत्‍सा में Oxygen कई तरह से उपयोगी है उपचार न केवल मरिज के रक्‍त में Oxygen को बडाता है लेकिन कई तरह के रोग ग्रस्‍थ फेफडो में रक्‍त के प्रवाह के प्रतिरोध को कम करने का माध्‍यमीक भी प्रभाव होता है ,ह्रदय पर काम के बोज को कम करना ।

Oxygen थेरिपी का उपयोग वातस्‍फीति, निमोनिया कुछ ह्रदय विकारो के कारण होता है जिससे फुसफुसीय धमनी के दबाव में वृद्धि हो जाती है और किसी भी बीमारी से शरीर को गैसीय Oxygen लेने और उपयोग करने की क्षमता को कम करता है।

उपचार अस्‍पतालो, मिरीज के घर में या प्रोटेबल डिवाईजेज द्वारा तेजी से इस्तेमाल करने के लिए पर्याप्त लचीले होते है ।

Oxygen  टेक एक बार आमतौर पर Oxygen पुरक मे उपयोग किया जाता था लेकिन बाद में इसे Oxygen  मास्‍क या नाक केनुलास के उपयोग से ज्‍यादातर जगह ले लिया था ।

Oxygen Kya Hai

हमारी बॉडी में हमारा ब्रेन, लीवर और हार्ड सबसे ज्यादा ऑक्सीजन का उपयोग करते हैं ताकि सारे और ऑरगन अच्छे से काम कर पाए कायने बैकटीरीया कुछ ऐसे जीव है जो कि कार्बन डाइऑक्साइड लेकर Oxygen छोड़ते है ।

पृथ्‍वी पर सबसे पहले Oxygen लाने वाले यही जीव थे जिसको Great Oxidation Event  के नाम से जाना जाता है अगर गैस के रूप में देखे तो Oxygen का कोई रंग नहीं है लेकीन तरल रूप में ये पीला और नीला दिखता है ।

ऑक्सीजन के तीन आइसोटोप्‍स होते है पानी को ऑक्सीजन और हाइड्रोजन से Oxygen में बदला जा सकता है इलेक्ट्रोलिसीस की मदद से Oxygen ठंडे पानी में अच्‍छे से मिल जाती है जीवीत प्राणीयो के लिए Oxygen अति आवशयक है इसे वे श्‍वसन द्वारा ग्रहण करते है ।

द्रव Oxygen तथा कार्बन, पेट्रोलिय इत्यादि का मिश्रण अति विस्‍फोटक है जिससे कार्बनडाईऑसाईड निरमुक्‍त होती है ।

Oxygen पृथ्वी अनेक पद्रार्थो में रहता जैसे पानी में और वास्‍व में अन्‍य तत्‍वो की तुलना में इसकी मात्रा सबसे अधीक होती है ।

Oxygen वायुमण्‍डल में सबसे अधीक मात्रा में मिलता है आयत के अनुसार उसका लगभग पांचवा भाग है Oxygen की कमी से मनुष्य को अंगो में बीमारी होने लगती है ।

क्या आपको पता है ? यदि शरीर में Oxygen की मात्रा बहुत कम हो जाए तो ब्रेन डेमेज और हार्ड अटेक तक की स्थिति बन जाती है।

शुगर के रोगीयो में यदी Oxygen की कमी हो जाऐ तो उनकी शुगर अचानक बहुत अधिक बढ़ सकती है जो कि एक जानलेवा स्थिती  भी बन जाती है Oxygen कर पूरती के लिए पानी को अच्‍छा सोर्स माना जाता है ।

Oxygen Kya Hai

यही कारण है कि डॉक्टर सलाह देते हैं की ज्‍यादा से ज्‍यादा पानी पिना चाहीए

Oxygen का स्‍तर अचानक से बहुत ज्‍यादा घट जाने पर  शरीर में थायराइड, हार्मोन का संतुलन गडबडा जाता है ऐसी स्थिति में थयरोड का स्‍तर या तो बहुत अधीक बड जाता है या बहुत अधीक घट सकता है ।

इससे Hypothyroidism और Hyperthyroidism की समस्‍या हो सकती है शरीर में ऑक्सीजन की कमी के कई कारण होते हैं जो व्यक्ति के लाईफस्‍टाईल पर निर्भर करते है ।

जो लोग बहुत अधिक आलस्‍य से भरपुर जीवन शैली जीते है यानी फिजीकल ऐक्‍टीवीटी नहीं करते है उनके शरीर में भी Oxygen की कमी हो जाती है ।

जो लोग बहुत अधीक शारीरीक कार्य करते है लेकीन उसके हिसाब से डाइट नहीं लेते उनके शरीर में भी ऑक्सीजन की कमी हो सकती है।

यह भी पढे –

जिन लोगो के भोजन में आयरन की मात्रा कम होती है अगर वे लम्‍बे समय तक ऐसा ही भोजन ले ते है उनके शरीर में भी Oxygen की कमी हो सकती है क्योंकि फेफडो सहीत पुरे शरीर में Oxygen का प्रवाह करने में आयरन महत्वपूर्ण भुमीका निभाता है ।

तो दोस्‍ता हम आशा करते है की  आपको ये आटीकल अच्‍छा लगा होगा अब आप Oxygen के बारे में एक चीज घहराई से जान गये होगे ।

इसलिए दोस्तों अगर आप को Oxygen Kya Hai उनके बारे में सारी जानकारी मिल गई है तो कृपया हमारी इस पोस्‍ट जरूर शेयर करें ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here