What is FasTag ।। फास्टैग क्या है ?

12

हेलो दोस्तों आज मैं आपको बताने वाला हूं कि Fastag क्या होता है इसको किस प्रकार बना सकते हैं कौन-कौन इस को बना सकता है और इसको इस प्रकार Activate किया जाता है और किस प्रकार Fastag Recharge किया जाता है इन सब की जानकारी आज मैं आपको देने वाला हूं तो बने रहिए आप हमारे साथ

Why Do We Need FasTag ?  सबसे पहले दोस्तों हमें FasTag की जरूरत क्यों है ?

कई बार आपने देखा होगा कि बड़े टोल प्लाजा पर बड़ी लंबी लाइनें लगी होती है लोगों के पास बड़ा ज्यादा केस होता है तो उनको चेंज देने में बड़ी प्रॉब्लम आती है या किसी के पास चेंज नहीं मिलते

इस प्रकार लोगों का टाइम बर्बाद होता है और उनका टाइम ज्यादा लगता है

इस प्रकार की समस्या के लिए सरकार ने एक सोल्यूशन निकाला और एक कार्ड जारी किया जिसको हम Fastag कहते हैं

यह कार्ड है जो RFID ( रेडियो फ्रिकवेंसी आइडेंटिफिकेशन ) नाम की जो टेक्नोलॉजी है उस पर काम करता है

इसके अंदर कुछ रेडियो फ्रिकवेंसी ट्रांसमीटर लगे होते हैं जो कि टोल प्लाजा के ऊपर लगे हुए सेंसर को सिग्नल भेजते हैं

वह सेंसर सिग्नल को पढ़कर उस गाड़ी के नंबर और उस गाड़ी की पूरी जानकारी बता देता है

अगर उस अकाउंट में उतना पैसा है कितना टोल प्लाजा पर लगता है तो उसको काट कर उस गाड़ी को आगे जाने की परमिशन देता है और इस प्रकार से आप का समय और आपका Fuel दोनो बच जाता है

इसका एक बहुत ही बढ़िया Advantage दिया है कि अगर आप 31 मार्च 2020 तक Fastag का Use कर रहे हैं तो आपको 2.5% का Case Bake  मिलेगा

यानी कि आप कितना भी पैसा इस Fastag पर यूज करेंगे तो उसका 2.5% Case Bake मिल जाएगा !

इसके अलावा एक बड़ा Advantage Fastag के लिए Government को यह भी है कि टोल प्लाजा पर जो ट्रांसपेरेंसी है वह नहीं था बहुत सारे टोल प्लाजा है जो बराबर Accounting नहीं करते थे और Government को मालूम नहीं चल पा रहा था कि कितना पैसा टोल के द्वारा आ रहा है

इस नई टेक्नोलॉजी से आपके पास धांधली करने का कोई ऑप्शन नहीं बचता है यह सरकार की बहुत ही अच्छी पहल है

What if the FasTag is not Placed in Their Car ?

अब बहुत सारे लोगों का यह सवाल होता है कि अगर उनकी गाड़ी में Fastag नहीं लगा होगा तो क्या होगा ?

दो बड़े हाईवेज हैं नेशनल हाईवे ओर स्टेट हाईवे उनमें से ज्यादातर लाइन Fastag वाली हो जाएगी

लेकिन वहां पर एक लाइन Case के लिए रहेगी अगर आपके पास Fastag नहीं है तो आप उस लाइन में जाकर Case पैसा देकर आप टोल प्लाजा की पेमेंट कर सकते हैं

अगर आप फास्टैग वाली लाइन में चले जाते हैं और वहां पर पैसे देते हैं तो आपको डबल पैसा देना होगा आपको 100%  सर्च चार्ज लग जाएगा

आप इस प्रकार की कोई गलती ना करें और जल्दी से अपना फास्टटेक बना ले

Where are FasTags Made ? यह फास्टैग बनते कहां पर है ?

Fastag को बनाने के लिए आपको या तो जो टोल प्लाजा है भारत में 2000 से भी ज्यादा टोल प्लाजा है वहां पर जो पॉइंट ऑफ सेल है वहां पर आप अपने डॉक्यूमेंट दिखाकर आप Fastag ले सकते हैं

लेकिन एक ज्यादा ईजी Method  यह है कि आप किसी बैंक में जाकर के या ऑनलाइन जाकर भी आप Fastag कार्ड बना सकते हैं जो कि मैं आपको नीचे बताने वाला हूं वह भी आप घर बैठे आपको कहीं जाने की जरूरत भी नहीं है

इस प्रकार की RFID यानी फास्टैग देने वाले भारत में Total 22 Bank हैं

इस कार्ड को बनाने का अलग-अलग बैंक का अलग-अलग चार्ज है जो कि रिफंडेबल होता है अगर आप इसको यूज़ नहीं करते हो तो आपको यह वापस दे दिया जाएंगे

इसके बाद आप अपने अकाउंट में जितना भी पेमेंट रखोगे या रिचार्ज करवा होगे वह आपके कार्ड में आ जाएगा

FASTAG KYC

अगर आपकी KYC कंप्लीट नहीं है तो आप ज्यादा से ज्यादा ₹20000 तक का Maximum Payment ही अपने कार्ड में डलवा सकते हो !

अगर आपकी KYC कंप्लीट हो गई है तो आप ₹100000 तक उस अकाउंट में जमा करा सकते हैं

How to Make Fastag ?

यह Fastag का अकाउंट बनाने के लिए सभी बैंकों ने अपनी अलग-अलग एक Micro Site दी है जहां पर जाकर आप अपना अकाउंट बना सकते हैं

लेकिन जरूरी बात यह है कि आप यह अकाउंट उसी व्‍यक्‍ति के नाम से बना सकते हो, जिस व्‍यक्‍ति के नाम से गाड़ी रजिस्टर्ड है दुसरे के नाम से नहीं ।

और आपकी गाड़ी की जो RC है उसकी कॉपी भी वहां पर अपलोड करनी होगी

उसके बाद आपको यह सब कंप्लीट करने के बाद अंत में पेमेंट करना होता है पेमेंट आप किसी भी प्रकार से कर सकते हो ATM Card, Debit card, Net Banking या UPI के द्वारा आप अपनी सुविधानुसार सिक्योरिटी डिपॉजिट पेमेंट को कर सकते हो

इसके बाद यह कार्ड आपको पोस्ट के द्वारा आपके घर आ जाएगा इसके अलावा आप इस कार्ड को बैंक के द्वारा भी खरीद सकते हैं

यह कार्ड खरीद लेने के बाद आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि आपने जो Fastag वाला अकाउंट बनाया है उसके अंदर पर्याप्त मात्रा में बैलेंस है

ताकि आप किसी भी टोल प्लाजा पर जाएं तो आपको रोका नहीं जाए कि आपके अकाउंट में पेमेंट नहीं है

आप जब भी Fastag का अकाउंट बनाएं इस अकाउंट को आप अपने बैंक अकाउंट से लिंक कर दें ताकि आपको इस प्रकार की Problems का सामना नहीं करना पड़े कि आपके अकाउंट में मिनिमम बैलेंस है

आपको उसको रिचार्ज कराना नहीं पड़ेगा आपका पेमेंट सीधा ही आपके बैंक अकाउंट से कट जाएगा जिस बैंक अकाउंट से आपका Fatag वाला अकाउंट लिंक है

How to install fastag ।। फास्ट्रेक को कैसे लगाएं ?

फास्ट्रेक यूज करने से पहले आप अपनी गाड़ी के कांच को अच्छी तरह से साफ कर लें और गाड़ी के फ्रंट साइड में टॉप के ऊपर बीचो-बीच इस कार्ड को चिपकाना है

कार्ड को बड़ी ही सावधानी से अपने उस कांच को साफ करके चिपकाना होगा और चिपकाने समय ध्यान रखना होगा कि यह कार्ड कहीं से फट ना जाए

अगर यह चिपकाते समय फट जाता है तो उसको वापिस हटा कर चुकाने का प्रयास ना करें वह कार्ड फिर काम नहीं करेगा इससे अच्छा होगा कि आप उस कार्ड को रिप्लेस ही करवा दे

आप एक Fsatag को 2 कार के लिए यूज नहीं कर सकते हो हर कार के लिए आपको इंडिविजुअल अलग-अलग Fastag लेना होगा

कुछ जरूरी सवाल ?

  1. आप लोगों के मन में होगा कि अगर आप कहीं टोल प्‍लाजा से जा रहे हो और आपके अकाउंट से आपका पेमेंट ज्यादा कट गया है तो आपके जो रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर होंगे उसके ऊपर एक मैसेज आएगा कि कितना पेमेंट कटा है अगर आपको लगता है कि यह पेमेंट ज्यादा कट गया है तो आप उस कार्ड के कस्टमर केयर नंबर पर जाकर आप अपनी कंप्लेंट कर सकते हैं और अगर आपका पेमेंट वाकई में गलत कटा है तो आपको वापस रिफंड कर दिया जाएगा

   अगर आप कई पर यात्रा कर रहे हो और आप रिटर्न वापस आना चाहते हैं तो आपके मन में       सवाल होगा कि आपको डबल पेमेंट देना होगा या जो रिटर्न का पेमेंट करता है वही कटेगा

  1. तो इसका यह है कि अगर आप 24 घंटे के अंदर वापस उसे टोल प्लाजा से जाते हो तो आपको जो भी इनका रिटर्न का चार्ज होगा वही लगेगा आपसे डबल पेमेंट नहीं लिया जाएगाफाटक वाले अकाउंट में आप कम से कम ₹100 का रिचार्ज कर सकते हैं
  2. अगर आपकी गाड़ी के ऊपर फास्टटेक कार्ड लगा है और आप उस गाड़ी को बेचना चाहते हैं तो क्या होगा ?

इस केस में आपकी जो फास्ट्रेक कार्ड यीशु किया है उस एजेंसी को आपको बताना होगा कि मैंने यह गाड़ी भेज दी है और वह गाड़ी अब किसी और के नाम पर है तो वह जो कार्ड है फर्स्ट वाला वह कैंसिल हो जाएगा

और जब नया खरीदने वाला है सारे पेपर उसके नाम पर ट्रांसफर हो जाएंगे वह अपने नाम का FasTag कार्ड बना सकता है   !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here