b pharma kya hai !! बी फार्मा क्‍या है ?

आज हम आपको यह बताने वाले है की B pharma kya hai जिसके बारे में काफी स्टूडेंट जानना चाहते हैं। कि आखिर यह कोर्स क्या है ? कौन – कौन इसे कर सकते है बहुत सारे सवाल तो आइए जानते हैं इस कोर्स के बारे में-

B.Pharma एक Course है जिसका संबंध मेडिसिन से है। यानी अगर आपका इंटरेस्ट मेडिसिंन के फील्ड में करियर बनाने का है। तो आप B.Pharma कर सकते हैं और इससे जुड़े सारे जरूरी जानकारी इस आर्टीकल में आपको मिलेगी।

b pharma kya hai

इसलिए इसलिए इस आर्टीकल को जरूर पूरा पढें ताकि B.Pharma कोर्स से जुड़ी आपकी सारी क्वेरी का आंसर आपको मिल जाए।

B.Pharma kya hai ?

B.Pharma की फुल फॉर्म है – बैचलर ऑफ़ फार्मेसी (Bachelor Of Pharmacy)

B pharma kitne saal ka hota hai

यह एक अंडर ग्रेजुएट फार्मेसी कोर्स है। इस डिग्री कोर्स की अवधी 4 साल की होती है। जिसमें हर इंस्टीट्यूट के हिसाब से करीकूलम को 6 से 8 सेमेस्टर कंप्लीट किया जाता है।

फार्मेसी ऐसा सांइस है जिसके तहत मेडिसिन से जुड़े Research और टेस्ट किए जाते हैं। हर बार जब किसी बीमारी के लिए इलाज खोजा जाता है तो फार्मेसी ही वह फील्‍ड है जो उसके ईलाज के लिए बानाई गई दवा को Test करता है।

उन पर सर्च करता है ताकि उस मेडिसिन की इफेक्ट और साइड इफेक्ट्स को जाना जा सके और उसे ट्रीटमेंट के लिए उपलब्ध कराया जा सके।

फार्मेसी हेल्प केयर इंडस्ट्री का बहुत ही इंपॉर्टेंट पार्ट होता है। यह न केवल मेडिसिंस की टेस्टिंग करता है। बल्कि मेडिसिंस को डिवेलप करने मैन्युफैक्चर करने और मार्केट में सप्लाई करने का काम भी करता है।

तो B.Pharma क्या है यह जान लेने के बाद अब जानते हैं कि B.Pharma करने के लिए क्राइटेरिया क्या होता है। B pharma course detail in hindi

B.Pharma Eligibility

B.Pharma कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपका हायर सेकेंडरी पास करना यानी 10+2 पास कंप्लीट करना जरूरी है।

इसमें आपके सब्जेक्ट PCM या PCB में से कोई एक होना चाहिए। इसके अलावा जिस इंस्टीट्यूट या यूनिवर्सिटी से यह कोर्स करना चाहते हैं वहां एडमिशन का मिनिमम मार्क्स क्राइटेरिया भी अलग अलग हो सकता है। जिसे आप को फॉलो करना होगा।

Admission Process

बहुत सी यूनिवर्सिटी B.Pharma में एडमिशन के लिए एंट्रेंस Test Organize करती है। जिसके बाद ग्रुप डिस्कशन, प्रर्सनल Interview और काउंसलिंग भी होती है।

कुछ Entrance Test है

BHU B. Pharma Entrance Test

MHT CET Entrance Test ( Maharashtra Common Entrance Test) 

GPAT Entrance Test (Graduate Pharmacy Aptitude Test)

WBJEE Entrance Test (West Bangla Joint Entrance Examination)

BITSAT Entrance Test (Birla Institute of Technology and Sciences Aptitude Test )

बी फार्मेसी के सब्जेक्ट क्या होते हैं आइए जानते हैं –

Biochemistry

Human Anatomy and Physiology

Pharmaceutical Biotechnology

Pharmaceutical Math’s Biostatistics

और इसी के साथ बेटर आफ Pharmacy के स्‍पेलाईज क्‍या है इसके बारे में बात करते है तो

Pharmaceutical Chemistry

Pharmaceutical Technology

Clinical Pharmacy

Ayurved

Pharmaceutics

Pharmacy Practice

Pharmacognosy

Pharmacology

Pharmaceutical Analysis And Quality Assurance 

b pharma kitne saal ka hota hai

आगे जानते हैं इंडिया के कुछ बेहतरीन कॉलेज के बारे में जो कि बी फार्मेसी कोर्स अवेलेबल करवाते हैं !

Best Indian B. Pharma College

University institute of Pharmaceutical sciences Chandigarh  

Institute of Chemical Technology Mumbai

Maniple College of Pharmaceutical Sciences Maniple

The Nilgiris Tamilnadu Pharmacy College

Jaipur National University

Integral University Lucknow

IIT Varanasi

MET University Noida

Bombay College of Pharmacy Mumbai

Amrita School of Pharmacy Kochi

Shri Ram Chandra Institute of Higher Education & Research Chennai

Maharaja Sayajirao University of Baroda

B.Pharma कोर्स करने के लिए स्टूडेंट में कौन सी Skills होनी चाहीए

तो हर स्टूडेंट का शार्प माइंड होना और डिसिप्लिन होना जरूरी होता है। लेकिन B.Pharma कोर्स थोरी के साथ – साथ प्रेक्टिकल कोर्स भी है।

जिसमें इनोवेशन और रिसर्च वर्क काफी ज्यादा होता है तो ऐसे में स्टूडेंट्स का मेडिसिन और साइंटिफिक रिसर्च में इंटरेस्ट और अंडरस्टैंडिंग होनी चाहिए साथ ही डिटरमिनेशन और कंसीसटेन्‍सी तो हर फील्‍ड की जरूरत होती है।

B.Pharma कोर्स कर सकने के बाद Students को क्‍या Benefits हैं ?

B.Pharma की डिग्री लेने के बाद स्टेट फार्मेसी काउंसिल में रजिस्टर करने के बाद अपनी केमिस्ट शॉप या फार्मेसी शॉप खुली जा सकती है।  

यानी यह डिग्री कोर्स करने के बाद आप अपने इंटरेस्ट का बिजनेस यानी की मेडिसिन के फिल्‍ड में अपनी शुरूआत कर सकते हैं।

B.Pharma करने के बाद अगर आप चाहे तो मास्टर डिग्री ले सकते हैं जिससे आप किसी एक Subject में स्‍पेलाईज हासील कर लेगे और आपको मिलने वाली जॉब अपॉर्चुनिटी और करियर ऑप्शंस काफी ज्यादा बढ़ जाएंगे।

अगर स्टूडेंट Teaching के फिल्‍ड में जाना चाहे तो B.Pharma के बाद लेक्चरर बनने की राह भी आपके लिए खुली है।

B pharma ke baad kya kare

वैसे B.Pharma डिग्री पूरी करने के बाद आप चाहे तो इन मैसे कोई भी कोर्स कर सकते हैं।

Master of Pharmacy (M.Pharma)

Course in Clinical Research

Drug Store Management Course

M.Sc Pharmaceutical Chemistry

Management Program in Pharmacy

Post Graduate Diploma in Clinical Trial Management

b pharma kya hota hai

B.Pharma करने के बाद अब कौन कौन से एरिया में Job पा सकेंगे ?

Hospital Pharmacy

Technical Pharmacy

Clinical Pharmacy

Medical dispensing Store

Research Agency

Educational Institute

Food and Drug Administration

Sales & Marketing Department

Health Center

B.Pharma के बाद मिलने वाले  जॉब Options के बारे में जानते हैं

तो आप बन सकते हैं

एनालिटिकल केमिस्‍ट

हेल्‍थ इंस्‍पेक्‍टर

ड्रग्‍ग थेरेपीस्‍ट

कस्‍टम ऑफिसर

डेटा मैनेजर

रेगुलैट्ररी मैनेजर

टीचर

हॉस्‍पीटल ड्रग्‍ग कॉडीनेटर

केमीकल टेकनीसीयन  

फार्मास्यूटिकल साइंसेज

तो काफी सारे ऑप्शन है आपके पास

वैसे बी फार्मेसी डिग्री होल्डर्स को रिक्रूट करने वाले कुछ इंडियन रिक्रुटर की बात की जाए तो यह है

Cipla

Piramal Pharma Solutions

Dr. Reddy’s laboratory

LUPIN

SUN Pharma

Bindumahadav Pharma

और इसी के साथ बी फार्मेसी डिग्री होल्डर्स को रिक्रुट करने के लिए काफी इंटरेनेशनल रिक्रूटर भी होते हैं।

तो India की फार्मास्यूटिकल इंडस्ट्री बहुत ही तेजी से ग्रो कर रही है और इस हिसाब से बहुत जल्द इस इंडस्ट्री में ट्रेन प्रोफेशनल्स की डिमांड बढ़ जाएगी क्योंकि Government Department of Pharmaceutical ने इंडिया को इस फिल्‍ड में मैजर हब बनाने के लिए जो इनेसीटीव लिया है Pharm Vision 2020

उसके बाद यह इंडस्ट्री One of the Bumming इंडस्ट्रीज के रूप में सामने आएगी

यह भी पढेे –  Architecture क्‍या होता है ?

                 शारदा एक्‍ट क्‍या है ?

जहां तक सैलरी की बात करे तो है

B.Pharma डीग्री होल्‍डर के Job Options और फिल्‍ड पर निरभर करेगी फिर भी अनदाजे से बताया जा सकता है की

Fresher के तौर पर B.Pharma करने के बाद आप 10 – 15 हजार रूपये हर महिने सैलेरी पा सकते है।

और आपकी इंस्टीट्यूट और एक्सपीरियंस के बाद तो ये सैलरी बढ़ती ही जाऐगी है मतलब आगे आपकी अपनी Skills  है आपाका अपना तरिका है की आप अपने आप को कैसे ग्रो करते है।

तो दोस्‍तो आप B pharma kya hai से जुडी सभी जानकारी ले चुके है और हमें उम्‍मीद है की आपको यह जानकारी बहुत पंसद आई होगी और आपके लिए बहुत मददगार सबीत होगी आगे भी ऐसी ही इंफोमेटीव जानकारी के लिए आप हमारे बलॉग Hinditechhousse.com पर जरूर आते रहीऐ ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here